दिहाड़ी मिलना कठिन है क्या इस समय?


Daily Wages मेरे पास बेरोजगारी के आंकड़े नहीं हैं। पर रोज दफ्तर जाते समय दिहाड़ी मजदूरी की प्रतीक्षारत लोगों को देखता हूं। इस बारे में फरवरी में एक पोस्ट भी लिखी थी मैने। तब जितने लोग प्रतीक्षारत देखता था उससे कहीं ज्यादा इस समय बारिश के मौसम में वहां प्रतीक्षारत दीखते हैं। क्या मजूरी मिलना कठिन हो गया है?

यह जरूर है कि वर्षा में निर्माण की गतिविधियां कम हो जाती हैं। सो यहां शहर मे काम कम मिलता है। पर सामान्यत अच्छे मानसून में जनता गांवों का रुख कर लेती है। खेती में मजदूरी की जरूरत बढ़ जाती है। रेलवे में ठेकेदार सामान्यत: इस मौसम में मजदूरों के न मिल पाने का रोना रोते रहते हैं।

क्या चक्कर है कि मजदूरी तलाशते लोग बढ़े हुये दिखाई देते हैं? फरवरी के मुकाबले लगभग ड्योढ़ी संख्या में। जरा देखिये ताजा फोटो – चलते वाहन से लोगों की भीड़ पूरी तरह कैप्चर नहीं कर पाया। साइकलें ही ज्यादा आ पायीं फोटो में। पर आपको मुझ पर यकीन करना होगा कि दिहाड़ी तलाशती भीड़ है पहले से ज्यादा।

क्या माजरा है। खेती में इस बारिश का लाभ नहीं है क्या? बारिश शायद समय के पहले बहुत ज्यादा हुई है। धान की रोपाई अच्छी नहीं हो पा रही। या शहर में जबरी टिके हैं ये मजूर – अण्डर एम्प्लायमेण्ट के बावजूद? या अर्थव्यवस्था चौपटीकरण के दौर में है? 

मेरे पास उत्तर नहीं है। कौतूहल है। क्या आपके पास उत्तर या अटकल है?  


Advertisements

28 thoughts on “दिहाड़ी मिलना कठिन है क्या इस समय?

  1. हमारे झारखण्ड में तो १०० दिनों के रोजगार वाली योजना नरेगा का बड़ा सोर था .बाद में फुस्स .यहाँ तक की जो गैर सरकारी कार्यकर्त्ता ओडिट करने आए उसे भी मर डाला गया क्या बताऊँ इस बारे में कुछ कह भी नही सकती.पुरी मजदूरी पर दस्तखत करवा कर आधी दे रहें है. मेरा एक पूर्व क्लासमेंट गया उपायुक्त से प्रोजेक्ट करने की अनुमति लेकर तो ठेकेदारों ने धमकी दी की चुपचाप निकल जाओ वरना जान से हाथ धो बैठोगे .

    Like

  2. देश के अलग – अलग हिस्सों में इस कतार की लम्बाई अलग-अलग है. शायद उत्तर प्रदेश-बिहार में सबसे लम्बी !

    Like

आपकी टिप्पणी के लिये खांचा:

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s