स्पैम (SPAM) के मायने


SPAM PIC मैने अपने महाप्रबन्धक महोदय को एक ई-मेल भेजी थी – साढ़े तीन एम.बी. के अटैचमेण्ट के साथ। उनके यह कहने पर कि वह उन्हें मिली नहीं, मैने पुन: प्रेषित कर दी – मुझे अटैचमेण्ट के आधार पर प्रशासनिक सपोर्ट की जरूरत थी। पर दूसरी बार भी उन्हें मेल न मिलने पर अजीब लगा, सो मैं व्यक्तिगत रूप से उनके पास पेन ड्राइव में ई-मेल के अटैचमेण्ट ले कर पंहुच गया।

वहां उन्होने जब अपने ई-मेल को ध्यान से सर्च किया तो पाया कि मेल को, गूगल, स्पैम (Spam) फिल्टर में डाले बैठा था।

तब स्पैम पर चर्चा चली। स्पैम का मतलब क्या है – उन्होंने पूछा। मैने कहा कि स्पैम को मैं कचरे के रूप में ही जानता हूं। यानी, अनायाचित, थोक के भाव भेजी गई ई-मेल। शब्द के मूल के बारे में तो पता नहीं।

Sudesh Kumar


श्री सुदेश कुमार, महाप्रबन्धक, उत्तर-मध्य रेलवे। कल ये प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे। और स्क्राइब्स अगर बेहतर तैयारी कर सवाल कर रहे होते तो ज्यादा ऑन-द-रिकॉर्ड निकलवा पाते। Sad Nod

उन्होने ही बताया कि इस शब्द पर उन्होने काफी माथा-पच्ची कर रखी है। यह "Shoulder of Pork and Ham" है। यह हॉर्मल कम्पनी बनाती थी। नाम हुआ करता था – हॉर्मल स्पाइस्ड हैम (Hormel Spiced Ham)। जब इस उत्पाद का मार्केट गिरने लगा तो एक नामकरण प्रतियोगिता के आधार पर यह नया नाम स्पैम (SPAM) रखा गया सन १९३७ में।

स्पैम निश्चय ही कचरा वेराइटी का मांस रहा होगा/है। मैने पढ़ा कि यह अमेरिका में काफी लोकप्रिय है, पर इसे आर्थिक तंगी से जोड़ कर देखा जाता है – यह सस्ता जो है। जो सस्ता और उपेक्षित सो स्पैम! स्पैम को निश्चय ही जंक फूड माना जाता होगा और जंक फूड के समतुल्य जंक मेल। लिहाजा जंक मेल स्पैम हो गया।

अब हमारे साम्य/समाजवादी एक आन्दोलन चला सकते हैं कि कचरा मेल को स्पैम न कहा जाये। सस्ते और लोकप्रिय उत्पाद की छीछालेदर गरीब का अपमान है।

वैसे हम नॉन-लहसुनप्याजेरियन के लिये स्पैम, "स्पैम" हो या चिकेन-कबाब, क्या फर्क पड़ता है। दोनो ही वर्जनीय हैं!

“स्पैम” का चित्र विकीपेडिया के इस पेज से।


Advertisements

41 thoughts on “स्पैम (SPAM) के मायने

  1. ज्ञान वर्धन हुआ. आजकल हमारे वर्डप्रेस ब्लॉग पर कुछ अच्छी टिप्पणियों को भी स्पेम में डाल दिया जाता है.

    Like

  2. एक और हिन्गलिश शब्द मुझ से ले लिजीये – मौकाटेरियन, ये मेरे उन मित्रों के लिये है जो सामान्यत: शाकाहारी टीटोटलर रहते हैं लेकिन मौका (मुफ्त में) मिलने पर पाला बदल लेते हैं।

    Like

  3. आज यहाँ भी शब्दों का सफर हो गया.. मेरा सामन्य ज्ञान बढ़ा.. आभार..spam की फोटो बदली है या मेरी नजरें धोखा खा रही है.. शायद सुबह मैने कोइ और फोटो देखी थी..

    Like

  4. देशाटन पर एक नॉन लहसुन प्याजेरियन .कैसे काम चलाया इस पर एक पोस्ट आ जाये.

    Like

  5. हाँ तो आप जैसे शाकाहारी नॉन लहसुनप्याजेरियन लोग इस बात पर भी हल्ला कर सकते हैं कि कचरा ईमेल को वेजिटेरियन बनाया जाए और मांसाहार से न जोड़ा जाए! 😉

    Like

  6. " स्पैम " की निर्मात्री कँपनी पहले अपने उत्पाद के शब्द के दुरुपयोग से बहुत त्रस्त थी किँतु अब, बुरा नहीँ मानते हुए, अमरीका के आर्थिक तँगी के दिनोँ मेँ, बढचढ कर पुन: विज्ञापन देने मेँ व्यस्त है – और "ग्लोकल" शब्द से जुडी कई दुविधाएँ आज आम हो चली हैँ – आप "नोनप्याजलहसुनिया टाइप "हैँ ये आज ही पता चला 🙂 जी ..क्योँ ना, सौ. रीता भाभी जी से , आपकी पारँपारिक कुछ रेसिपी शेर करवाई जाये ? हमेँ भी लाभ होगा – – लावण्या

    Like

  7. ’नॉन-लहसुनप्याजेरियन’ भविष्य में आपको निमंत्रित करेंगे तो ये बात बहुत काम आयेगी :)आज आपकी फोटो अखबार में देखी आई नेक्स्ट में :)वीनस केसरी

    Like

आपकी टिप्पणी के लिये खांचा:

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s