टूण्डला की पुरानी क्रेन

टूण्डला फिरोज़ाबाद जिले का पुराना रेलवे शहर है। रेलवे लाइन यहां १९वीं सदी के उत्तरार्ध में बनी होगी। तब की इमारतें, वस्तुयें यहां उपलब्ध हैं।

आज यार्ड में घूमते हुये मुझे यह सन् 1879 की हाथ से चलने वाली दस टन की क्रेन दिखी। बहुत सुन्दर। अब निश्चय ही काम में नहीं आती होगी – यद्यपि अभी भी रेल की पटरी पर खड़ी थी।

उसपर उपलब्ध प्लेक के अनुसार वह Cowans Sheldon & Co Ltd द्वारा Carlisle, England में 1879 की बनी है। उसका नम्बर 1001 है।

10 Tonne Hand Crane at Tundla
The plaque on Hand Crane

सुन्दर लग रही है यह दस टन की हाथ से चलने वाली क्रेन, नहीं? कई महत्वपूर्ण इमारतों के सामने रेलवे वाले नैरो गेज के इंजन लगाते हैं। आर्मी वाले टैंक और एयर फोर्स वाले फाइटर प्लेन। उसी तरह किसी इमारत के सामने यह क्रेन रखी जा सकती है – उसके सामने का अच्छा व्यू देने के लिये!


Advertisements

11 Replies to “टूण्डला की पुरानी क्रेन”

  1. आपका अभिनन्दन. ऐसी चीजों पर तो हमारी आसक्ति वर्षों से रही है. मुझे लगता है कि जंग वंग निकालकर इसे पुनर्जीवित किया जा सकता है. चालु हालत में आने के बाद जैसा आपका सोचना है, प्रदर्शित किये जाने की व्यवस्था करवा सकें तो मैं आभारी रहूँगा.

    Like

    1. I think you should have posted the photo of that crane… It is historical and present generation should see.
      I was in Glasgow which gave best locomotive engines to Indian Railways. However they are not manufacturing any engines for railways say it loco, diesel or electrical.. However they have meuseum which shows locos, ships, cars etc. etc…

      We, Indians, do show what our past was… You are trying to give past to present generation.

      Like

  2. बचपन से मिला दिया आपने.. टूंडला.. बस आपकी नज़रों से अपने बचपन को एक नज़र देख रहा हूँ!! कुछ कहना संभव नहीं..एक नॉस्टैल्जिक अनुभव!!

    Like

आपकी टिप्पणी के लिये खांचा:

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s