तीन बनी

image

नत्तू पांडे के पास तीन खरगोश हैं – ह्वाईट बनी, ब्लैक बनी और बदमाश बनी। ह्वाईट और बदमाश बनी सफेद रंग के हैं। बदमाश बनी शराराती और कटखना है। उसकी बदमाशी के कारण उसे अलग पिंजरे में रखा जाता है। वह नत्तू पांड़े को दो तीन बार खरोंच चुका है।

ब्लैक बनी मादा है। वह दो बार बच्चे दे चुकी है, पर वे जी नहीं पाए।

नत्तू पांडे अपने खरगोशों से बहुत प्यार करते हैं। ये तीनों खरगोश नत्तू पांड़े के गांव, फुसरो (बोकारो से तीस किलोमीटर दूर) रहते हैं!

Advertisements

8 thoughts on “तीन बनी

  1. Dear Bhaiya
    Whenever I received your comments
    About the son of our Saubhagyawati
    Daughter Vani as Nattu Pandey , I some how feel few uneasy ness to myself in regard to yours this reference about him.
    Dear Bhaiya , if you think ,it is my personal & sincere suggestion to have a lovable ‘ Sambodhan’ to our
    Grand son , & I keep thinking to suggest if I find a graceful one for your good self.
    My request is also due, to Respected Bhabhi , to think & find a better one so that Vani’s balls of eyes & heart of hearts may be referred as ‘ Kalit or Lalit’ like of words ( the Sankrit one- meaning that – in relation to- Arts or Love).
    Please have time , both of you (Respected Bhabhi also) including my
    Self to think & find for ourselves in this reference for your future FB & Blogs.
    Regards&Thanks to you & respected
    Bhabhi.
    Yours
    Anand
    Sent from BlackBerry® on Airtel

    Like

    • अब इतनी तेजी से बड़े हो रहे हैं नत्तू पांड़े कि ज्यादा दिन तक यह सम्बोधन चलेगा नहीं! 🙂

      Like

      • ऐसा कुछ वर्ष रहेगा शायद २५-३० या ३५ तक फिर से यही कहलाना पसंद करेंगे.

        Like

    • मान्यवर,
      परिजनों के निजी वार्तालाप में टीका टिप्पणी करना निहायत अशोभनीय एवं सीमाओं से परे होगा तदापि मेरा आपसे अनुरोध है कि सर को उक्त संबोधन करने दिया जाय। वे एक साहित्यिक प्रेमी व्यक्तित्व हैं और लगातार पढ़ते पढ़ते मुझे भी इस शब्द से लगाव सा हो गया है। नाती को नत्तू संबोधित करना जैसे प्रेम मिश्रित हास्य एवं दुलार को पदर्शित करता है।
      साहिब जो लिख देते हैं ….अच्छा लगता है …..ना जाने क्यों !!!

      Like

आपकी टिप्पणी के लिये खांचा:

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s