गांव में अजिज्ञासु (?) प्रवृत्ति

Gallery

This gallery contains 2 photos.


गांव में बहुत से लोग बहुत प्रकार की नेम ड्रॉपिंग करते हैं। अमूमन सुनने में आता है – “तीन देई तेरह गोहरावई, तब कलजुग में लेखा पावई” (तीन का तेरह न बताये तो कलयुग में उस व्यक्ति की अहमियत ही … Continue reading

लिखूं, या न लिखूं किताब उर्फ़ पुनर्ब्लागरो भव:

Gallery

This gallery contains 4 photos.


मेरे साथ के ब्लॉगर लोग किताब या किताबें लिख चुके। कुछ की किताबें तो बहुत अच्छी भी हैं। कुछ ने अपने ब्लॉग से बीन बटोर कर किताब बनाई। मुझसे भी लोगों ने आग्रह किया लिखने के लिये। अनूप शुक्ल ने … Continue reading